सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

हार्ट अटैक की प्रॉब्लम अब ज्यादा देखने को मिलने लगे हैं। पहले पुरुष इस बीमारी से ज्यादा जूझते थे। लेकिन अब महिलाओं में भी हार्ट प्रॉब्लम्स तेजी से बढ़ने लगे हैं। चाहे इस बीमारी से पुरुष ज्यादा जूझते हो या महिला इसे कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। अक्सर अपनी सेहत को नजरअंदाज लोग करते हैं। जब तक होश सम्भलता है सेहत को लेकर तब तक बहुत देर हो गई होती है।

महिलाओं की हेल्थ प्रॉब्लम्स अक्सर देर से सामने आती हैं और कई बार तो बहुत देर हो चुकी होती है। और अब तो बहुत कम उम्र में भी हार्ट अटैक के मामले आने लगे हैं, इसलिए इसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। हार्ट प्रॉब्लम्स से बचने और इसके लक्षणों को देखते ही उचित एहतियात बरतना और सही उपाय करना बहुत ज़रूरी है। इसलिए हम बताने जा रहे हैं आपको हार्ट प्रॉब्लम्स के कुछ लक्षणों के बारे में। अगर आप भी कुछ ऐसा ही लक्षण महसूस करते हैं अपने बॉडी में तो कभीकअनदेखा न करें।

ये भी पढ़ें: इन बीजों में है भरपूर पोषक तत्त्व, स्वस्थ रहने के लिए जरूर करें इनका सेवन

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

सीने में दर्द

सीने में दर्द हो या फिर सांस फूलता हो, सीने में बेचैनी और भारीपन महसूस हो तो यह हार्ट अटैक का लक्षण हो सकता है, इसलिए इसे अनदेखी न करें। तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

शरीर के ऊपरी भाग में तेज दर्द

शरीर के ऊपरी भाग में दर्द जैसे- गर्दन, पीठ, दांत, शोल्डर और कंधे की हड्डी में दर्द होना हार्ट अटैक के लक्षण हैं इसलिए इन्हें नज़रअंदाज़ बिल्कुल न करें। ऐसी स्थिति में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

अत्यधिक पसीना आना

महिलाओं को मेनोपॉज़ के दौरान बहुत पसीना आता है और इसी दौरान कई महिलाओं को हार्ट प्रॉब्लम भी होने लगती है। ऐसे में पसीना आने को हल्के में लेना खतरनाक हो सकता है। यदि आपको अचानक पसीना आने लगे, तो देर किए बिना डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

ये भी पढ़ें: एड़ी के दर्द से चलने-फिरने में हो रही दिक्कत तो ऐसे करें मसाज, मिलेगा तुरंत आराम

चक्कर आना

चक्कर आना या सिर घूमना भी हार्ट अटैक के लक्षणों में से एक है। ऐसा हृदय को जाने वाली एक शिरा में रुकावट होने के कारण होता है। ज्यादातर ऐसे चक्कर आना को लोग समझते हैं कि ऐसा कमजोरी, थकान, काम के प्रेशर आदि के कारण हो रहा है, लेकिन ऐसा सोचना कई बार जानलेवा हो सकता है। इस संकेत को अनदेखा न करें और डॉक्टर से संपर्क करें।

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

सांस लेने में दिक्कत

महिलाओं में हार्ट अटैक के अधिकतर मामलों में सांस लेने में दिक्कत होना सबसे बड़ा संकेत दिखाई देता है, इसलिए इसे हल्के में न लें। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में ये संकेत ज़्यादा खतरनाक इसलिए है, क्योंकि महिलाओं में सीने में दर्द के बिना सांस लेने में परेशानी जैसी समस्या देखने को मिल सकती है, इसलिए ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

ये भी पढ़ें: खूबसूरत चेहरे के लिए स्क्रबिंग करने का सही तरीका क्या है?

जी मिचलाना, उल्टी या अपच

ये संकेत पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में अधिक देखने को मिलते हैं, इसलिए महिलाएं जी मिचलाना, उल्टी, अपच जैसे लक्षणों को नज़रअंदाज़ बिल्कुल न करें। हार्ट को ब्लड पहुंचाने वाली धमनी में जब रुकावट पैदा होती है, तब ऐसे संकेत देखने को मिलते हैं। महिलाओं के लिए खासकर ये संकेत ज्यादा घातक हैं इसलिए इन्हें हल्के में कभी न लें।

जुबान लड़खड़ाना

यदि आपकी जुबान लड़खड़ा रही है या आपके जबड़े में दर्द हो रहा है, तो ये भी हार्ट अटैक का एक संकेत हो सकता है। यदि आपके जबड़ों में लगातार दर्द हो रहा है, तो ये दांत दर्द की समस्या हो सकती है, लेकिन जब ये दर्द थोड़ी-थोड़ी देर में हो और आपके थक जाने पर दर्द बढ़ जाए, तो ये हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है।

ये भी पढ़ें: क्या आप डार्क सर्कल से परेशान हैं? तो अपनाएं ये खास उपाय

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

हार्ट प्रॉब्लम्स से बचने के लिए क्या खाएं

  1. रोजाना ताज़े फल और सब्जि़यां खाएं। इनसे आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति होती है और शरीर स्वस्थ रहता है।
  2. विटामिन सी, केरोटेनॉइड्स और एंटी ऑक्सिडेंट युक्त फूड, जैसे गाजर,गोभी आदि दिल की बीमारी से शरीर की रक्षा करते हैं, इसलिए इनका नियमित सेवन करें।
  3. फिश, सोया प्रोटीन, ओट्स व अन्य हाई फाइबर युक्त फूड हार्ट अटैक जैसी समस्याओं से निपटने में सक्षम हैं, इसलिए इनका सेवन करें।
  4. मल्टीग्रेन ब्रेड, अनाज, सूखे मेवे आदि भी असरदार होते हैं, इसलिए इनका सेवन ज़रूर करें।
सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

हार्ट प्रॉब्लम्स से बचने के लिए क्या न खाएं

  • रेड मीट, चिकन स्किन, मलाई युक्त डेयरी प्रॉडक्ट्स, नारियल तेल आदि के सेवन से दूर रहें।
  • ट्रांसफैट और सैच्युरेटेड फैट युक्त आहार से परहेज़ करें।
  • शराब का सेवन न और तंबाकू का सेवन न करें।
  • ज़्यादा नमक के सेवन से बचें।
  • फैटी और जंक फूड का सेवन न करें।

ये भी पढ़ें: डिप्रेशन क्या है? इसकी पहचान और इलाज कैसे किया जा सकता है!

सामान्य से दिखने वाले ये लक्षण हैं हार्ट डिजीज के संकेत, बरतें ये एहतियात

हार्ट प्रॉब्लम्स से बचने के लिए लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करें

  1. नियमित रूप से योग, ध्यान, एक्सरसाइज़ करें।
  2. तनाव से बचने की हर मुमकिन कोशिश करें।
  3. रात को जल्दी सोएं और सुबह जल्दी उठें। भरपूर नींद लें।
  4. शराब-सिगरेट से परहेज करें।
  5. आप नियमित रूप से अपने शुगर और ब्लड प्रेशर का चेकअप कराएं। साथ ही, कोलेस्ट्रोल को भी कंट्रोल में रखें।

(प्रिय पाठक, पल-पल के न्यूज, संपादकीय, कविता-कहानी पढ़ने के लिए ‘न्यूज बताओ’ से जुड़ें। आप हमें फेसबुक, ट्विटर, टेलीग्राम, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published.